कुंभ मेले में शामिल 14 अखाड़ों पर एक नजर/A look at the 14 akhadas in Kumbh Mela

#kumbhmela2019 #prayagrajkumbh #कुंभमेला #indianwriting #Hindi

आस्था का सबसे बड़ा पर्व कुंभ मेला इन दिनों प्रयागराज में चल रहा है. जहां देश दुनिया से करोड़ों श्रद्धालु आकर पवित्र संगम में स्नान करते हैं. कुंभ का विशेष आकर्षण साधु संत और देश की सांस्कृतिक धरोहर का प्रदर्शन है. अगर बात करें साधु-संतों की तो कुंभ मेले के दौरान पूरे देश से लाखों करोड़ों की संख्या में साधु संत कुंभ में आते हैं. आधिकारिक रूप से 13 अखाड़े कुंभ में प्रवेश करते आ रहे हैं. लेकिन इस वर्ष किन्नर अखाड़ा भी इसमें शामिल हो गया है और यह संख्या बढ़कर 14 हो गई है.
कुंभ मेले में साधु संतो की उपस्थिति माहौल को पवित्र और आस्था मय बना देती है. कुंभ में सभी अखाड़ों की अपनी अपनी विशेषता है. लेकिन उन सब का एक ही मकसद है देश की एकता, अखंडता और संस्कृति को संभाल कर रखना. अगर इन अखाड़ों पर नजर डाले तो-

1.श्री शंभू पंचायती अटल अखाड़ा-:

इस अखाड़े के साधु संत भगवान गणेश की पूजा करते हैं. अटल अखाड़ा सन्यासी अखाड़ों के अंतर्गत आता है. जिसका उदय महानिर्वाणी से हुआ है.

2.तपोनिधि पंचायती श्री आनंद अखाड़ा-:

श्री आनंद अखाड़े के साधु संत भगवान सूर्य की पूजा करते हैं. आनंद अखाड़ा भी सन्यासी अखाड़ों के अंतर्गत आता है. जिसकी उत्पत्ति निरंजनी अखाड़े से हुई है.

3. श्री शंभू पंच अग्नि अखाड़ा-:

अग्नि अखाड़ा सबसे लोकप्रिय अखाड़ों में से एक है. इस अखाड़े के साधु संत गायत्री माता की पूजा करते हैं. अग्नि अखाड़ा जूना अखाड़ा से संबंधित है, यह भी सन्यासी अखाड़ों के अंतर्गत आता है.

4. श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा-:

जूना अखाड़े के साधु संत अपने इष्ट देव शिव जी की पूजा करते हैं. वर्तमान में इस अखाड़े के सबसे बड़े संत केदार पुरी महाराज जी हैं. जूना अखाड़ा भी संयासी अखाड़े के अंतर्गत आता है.

5. श्री पंच दशनाम आवाहन अखाड़ा-:

श्री पंच दशनाम आवाहन अखाड़ा जूना अखाड़े से संबंधित है इस अखाड़े के साधु संत भी गणेश जी की पूजा करते हैं

6. पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी-:

निरंजनी अखाड़े के साधु संत कार्तिक स्वामी की पूजा करते हैं. यह अखाड़ा सन्यासी अखाड़ों के अंतर्गत आता है.

7. श्री पंचायती अखाड़ा नया उदासीन निर्वाण-:

इस अखाड़े के सबसे बड़े महान श्री धूनी दास जी हैं. अखाड़े के साधु संत चंद्र भगवान की पूजा करते हैं.

8. श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन निर्वाण-:

यह अखाड़ा 3 उदासीन अखाड़ा के अंतर्गत आता है. गुरु नानक जी की बातों पर अमल करने वाले इस अखाड़े के साधु संत काफी शांत और दिव्यदृष्टि वाले होते हैं. बड़ा उदासीन अखाड़ा के साधु-संत चन्द्र भगवान की पूजा करते हैं. ये गुरू नानक की संतान हैं.

9. निर्मल अखाड़ा-:

यह अखाड़ा भी उदासीन अखाड़े के अंतर्गत आता है. जहां बड़ी संख्या में लोग साधु संतो के दर्शन करने और आशीर्वाद लेने आते हैं.

10. अखिल भारतीय श्री पंच निर्मोही अनी अखाड़ा-:

वैष्णव अखाड़ों की विचारधारा से जुड़े हुए अखाड़ों ने इस अखाड़े का नाम आता है. यहां संस्कृति और सभ्यता की धरोहर दिखाई देती है.

11. निर्वाणी अखाड़ा-:

वैष्णव अखाड़ों की सूची में दूसरा अखाड़ा है. निर्वाणी अखाड़ा इस अखाड़े में साधु संत भारी संख्या में आते हैं और अपनी पवित्रता से कुंभ को दर्शनीय बनाते हैं.

12. दिगंबर अखाड़ा-:

दिगंबर अखाड़ा काफी लोकप्रिय और पवित्र अखाड़ा है. यह खड़ा भी वैष्णव विचारधारा से जुड़ा हुआ है.

13. महानिर्वाणी अखाड़ा-:

सन्यासी अखाड़ों में महानिर्वाणी अखाड़े का भी नाम आता है. जो अपनी ईश्वर भक्ति के लिए जाने जाते हैं.

14. किन्नर अखाड़ा-:

प्रयागराज स्थित कुंभ नगरी में इस वर्ष सबसे चर्चा का विषय यही अखाड़ा बना हुआ है. क्योंकि पहली बार किन्नर समाज के साधु संतों को अखाड़े में शामिल किया गया है. जिसे किन्नर अखाड़ा का नाम दिया गया है. इस अखाड़े की लोकप्रियता काफी ज्यादा है और लोग यहां भारी संख्या में आशीर्वाद लेने और दर्शन करने आ रहे हैं.

••••

The biggest festival of faith is going on in Prayagraj these days.Where crores of devotees from the world come and bath in the holy Sangam. The special attraction of Kumbh mela is the display of the cult Saint and the cultural heritage of the country. If you talk about sadhus and saints gathers during the Kumbh Mela, the number is in millions. Officially 13 akhadas are coming the Kumbh mela. But this year, transgender’s Akhada has also joined it and this number has increased to 14. The presence of the sadhu saints in the Kumbh Mela makes the atmosphere pure and religious. All the akhadas have their own specialty in Kumbh. But the only purpose of them is to keep the unity, integrity and culture of the country in hand.

The name of all 14 akhadas are-:
1. Shree Shambhu Panchayati Atal Akhara
2. Taponiidhi Panchayati Shri Anand Akhara
3. Shree Shambhu Punch Agni Akhada
4. Sri Panch Dasanama Juna Akhara
5. Shri Punch Dasnama awahan akhada
6. Panchayati Akhara Shri Niranjani
7. Shri Panchayati Akhara Naya udaseen Nirvana
8. Shri Panchayati Akhara bada udaseen Nirvana 9. All India Shri Pancham Nirmohi Ani Akhara
10. Nirmal Akhara
11. Nirvani Arena
12. Digambar Akhara
13. Mahanirvani Akhada
14. Kinnar/transgender akhada

Adityamishravoice

Credit:

Photography: kshama joshi

Reported by: Alok sharma

Editor: Shivam Pandey

Production: http://www.phononews.com

Advertisements

5 thoughts on “कुंभ मेले में शामिल 14 अखाड़ों पर एक नजर/A look at the 14 akhadas in Kumbh Mela

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s