1983 world Cup full story

भारत में भी तक दो बार वर्ल्ड कप में अपनी बादशाहत कायम की है। शुरुआत हुई थी 1983 में, जब कपिल देव की कप्तानी में भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को फाइनल मुकाबले में 43 रनों से हराकर जीत दर्ज की। यह ऐतिहासिक मैच रहा, जिसमें 25 जून 1983 को पहले ऑल आउट होने के बाद भारतीय टीम ने गेंदबाजी में वापसी की। कपिल देव ने 11 में से 4 मेडन ओवर फेंके, मदनलाल ने 31 रन देकर तीन विकेट लिए मोहिंदर अमरनाथ ने सिर्फ 7 ओवर में 12 रन दिए. इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2011 में भारतीय टीम ने दोबारा जीत दर्ज की, इस बार सामने श्रीलंका की टीम थी।

पूरी टीम 183 पर ऑल आउट, 60 ओवर का फाइनल मैच.. फिर चैंपियन 🇮🇳🇮🇳🇮🇳

1983 की दिलचस्प कहानी 👇👇👇

1983 में 183 पर ऑल आउट होने वाली भारतीय टीम कैसे जीती वर्ल्ड कप

5 thoughts on “1983 world Cup full story

  1. आपका बहुत बहुत धन्यवाद इसको हमारे साथ साझा करने के लिए 🙏😊
    वास्तव में वो क्षण, वो लम्हें 1983 की जीत के क्या शानदार रहे होंगे😊😄
    मैंने 2011 का वर्ल्ड कप देखा था, तब मै 9 साल का था। और 1983 का वर्ल्ड कप मैंने कुछ ही दिन पहले यूट्यूब पर देखा।

    Liked by 3 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s