Happy Independence Day 2020

दुआ करें यह आजादी का जश्न ऐसे ही लगातार चलता रहे.संघर्ष करें कि इस देश के हर नागरिक को सदा इस स्वतंत्रता का स्वाद मिलता रहे.वादा करें कि हम अपनी एकता की डोर और मानवता का संबल लेकर आगे बढ़ते रहेंगे. हिंद की सदा जय हो, हिंदुस्तान का सदा सर ऊंचा रहे.स्वतंत्रता के अनुशासन को […]

Read More Happy Independence Day 2020

एक दुख ऐसा भी/ virtual sadness

दुख का कोई निश्चित दायरा नहीं है, आप किसी भी छोटे बड़े कारण पर दुखी हो सकते हैं। आजकल एक नई तरीके का दुख हमें ज्यादा दिखाई दे रहा है। मामला आधुनिकता भरे वर्ल्ड से जुड़ा हुआ है, जिसे सोशल मीडिया भी कहते हैं। एक मित्र ने नया-नया टि्वटर अकाउंट बनाया, लेकिन इस महीने में […]

Read More एक दुख ऐसा भी/ virtual sadness

बकवास

बातचीत के कई प्रकार होते हैं, अक्सर बातों की एक निरर्थक कड़ी को बकवास का नाम दे दिया जाता है. काम की बात सुनने के बाद अन्य शब्द बकवास की श्रेणी में आते हैं. बकवास करना एक कला है, जिसका सही मतलब सबकी समझ में नहीं आता. वास्तव में असली मजा बातचीत के इसी प्रकार […]

Read More बकवास

सुबह 4:00 बजे की बारिश

#worldenvironmentday #बारिश #हिंदी #पर्यावरणदिवस #fridaymorning सूरज दरवाजे पर दस्तक देने वाला था और चिड़ियों का एक झुंड तैयार हो रहा था। तभी सुबह की पहली किरण से पहले बूंद बरसने लगी। सुबह का यह ऐसा वक्त होता है, जब गहरी नींद भी आती है और गहरा तप भी किया जाता है। कुछ लोगों के अनुसार […]

Read More सुबह 4:00 बजे की बारिश

कुछ बातें काम की/ how to stopOverthinking

#Overthinking #coronaTime #blogger #optimistic खुद के उल्टे सीधे ख्यालों को रस्सी से जकड़ कर कहीं बांधने की कोशिश कर रहा हूं, लेकिन हो नहीं पा रहा है। इनमें इतनी ताकत है कि घसीटते घसीटते मुझे काफी दूर तक ले आए हैं। जहां इतना अंधेरा है कि कुछ समझ नहीं आ रहा है.. किधर से आए […]

Read More कुछ बातें काम की/ how to stopOverthinking

कौन हैं ये

#CoronaImpact #lockdown #HindiBlog #lifestruggle ट्रेन में क्लास तो कई होते हैं, लेकिन उन्हें सिर्फ जनरल डिब्बा ही नसीब होता है। किसी बड़ी फैक्ट्री के मालिक नहीं है, कोई उसी फैक्ट्री में काम करता है तो कोई वहां से निकले हुए प्रोडक्ट को ठेले में सजाकर गली-गली बेचता है। शहर में इनकी कोई बड़ी कोठी नहीं […]

Read More कौन हैं ये

मैन इन मास्क

#mask #Corona_effect #blog #hindi #adityamishravoice हठ कर बैठा चांद एक दिन माता से यह बोला,सिलवा दे मां मुझे ऊन का मोटा एक झिंगोला. अगर रामधारी सिंह दिनकर जी ने आज यह कविता लिखी होती तो शायद चंदा मामा झिंगोला नहीं मास्क मांग रहे होते। खैर अभी तो मास्क लगाने की बारी हमारी है। धीरे-धीरे यह […]

Read More मैन इन मास्क

Inside Out: Peace

#Motivation #Peace #Blogger #chill #lockdown When an example is used to explain the word peace, mental peace will come first in the list. It simply means that there is no worry in our thinking and understanding. When something keeps haunting our mind again and again, the good and bad consequences associated with it make us […]

Read More Inside Out: Peace

चांद के पार, पर चलें कैसे: Lockdown में मजदूर मज़बूर

#lockdown4 #corona #मजदूर #blogger #हिंदी #adityamishravoice घर अभी कोसों दूर है, पैरों में जान भी नहीं बची है। लेकिन हार मानने का भी दिल नहीं कर रहा है। बस किसी तरह अपने दोनों पैरों को मनाने की कोशिश कर रहा हूं। उन्हें घर पहुंचने के एहसास का आभास दिलाने की भी कोशिश कर रहा हूं। […]

Read More चांद के पार, पर चलें कैसे: Lockdown में मजदूर मज़बूर

खबर का असर

#lockdown #Newpackage #ModiGovernment खबर: प्रधानमंत्री ने आर्थिक पैकेज का किया ऐलान, कुल रकम 20 लाख करोड़ जो भारत की कुल जीडीपी का लगभग 10% असर: नए पैकेज के साथ ही नई नई प्रतिक्रियाएं भी आने लगी। विपक्ष ने आंखों पर हमेशा की तरह पट्टी बांध ली और विरोध के ढोल को बजाने लगे। वहीं समर्थक […]

Read More खबर का असर